1329 तदर्थ शिक्षकों की सेवा अमान्य

 सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में सालों से पढ़ा रहे 1320 तदर्थ सहायक अध्यापकों और नौ प्रवक्ताओं की सेवाएं अमान्य हो गईं। इसी के चलते उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की प्रशिक्षित स्नातक (टीजीटी) और प्रवक्ता (पीजीटी) 2021 की भर्ती में तदर्थ शिक्षकों का चयन नहीं हो सका। आवेदन करने वाले 1436 तदर्थ सहायक अध्यापकों में से मात्र एक का चयन हो सका।

126 शिक्षकों की सेवाएं जिला विद्यालय निरीक्षक स्तर से सत्यापित होने के बाद अधिभार मिला था। नौ नवंबर को सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने 1329 तदर्थ शिक्षकों की सेवा सत्यापन न होने का कारण पूछा है। अपर शिक्षा निदेशक माध्यमिक ने डीआईओएस को 14 नवंबर को पत्र भेजकर सूचना मांगी है।



1329 तदर्थ शिक्षकों की सेवा अमान्य Rating: 4.5 Diposkan Oleh: UPkaMaster

0 Comments:

Post a Comment